Friday, November 30, 2012

नसीहत: अब तो चेतना ही होगा।

नसीहत: अब तो चेतना ही होगा।: आम आदमी बीमारियों से हैरान है और नई-नई बीमारियो को देख और भुगत रहा है। जरा आप भी अपने आस-पास को देखे एक नए रोग की आहट समझ में आएगी। ये सभी ...

अब तो चेतना ही होगा।

आम आदमी बीमारियों से हैरान है और नई-नई बीमारियो को देख और भुगत रहा है। जरा आप भी अपने आस-पास को देखे एक नए रोग की आहट समझ में आएगी। ये सभी बीमारिया मिलावट की है। नित नए युवा  भी अब सुगर के चपेट में आ रहे है। आखिर इसके जड़ में भी जाना होगा अपने खान-पान की निगरानी करनी ही होगी। गुर्दे फेल हो रहे है। फेफड़े रक्त साफ करते-करते हाफ रहा है।

आखिर कितनी सफाई शरीर की करे ये भी मिलावट के जहर को ख़त्म करते करते काम करना ही बंद कर देते है या फिर अपने को सक्षम पाते है। ऐसी हालात में हमें ही सचेत होना पड़ेगा। आज हमारे पड़ोस में भी रहने वाला दुकानदार बड़े ही विश्वाश के साथ विश्वश्घात कर रहा है। सब कुछ जान कर भी हमें और हमारे विश्वाश का कुछ लाभ के लिए हत्या कर देता है।

हमें अपने जीवन के लिए ही सही अब तो कुछ सचेत होकर समाज से मिलावट के जहर को मितान ही होगा और चेतना होगा।

Tuesday, November 13, 2012

नसीहत: क्या धर्म यही सिखाता है ?

नसीहत: क्या धर्म यही सिखाता है ?: दीपावली को सुखमय बनाने और कुछ पाने की चाह में आम आदमी अमावश्या के अवसर पर चित्रकूट में जाने और दर्शन की होड़ लगाते है। तब जान तक की कोई परव...

क्या धर्म यही सिखाता है ?

दीपावली को सुखमय बनाने और कुछ पाने की चाह में आम आदमी अमावश्या के अवसर पर चित्रकूट में जाने और दर्शन की होड़ लगाते है। तब जान तक की कोई परवाह भी नहीं करता है। जैसा की घाटमपुर स्टेशन में ली गति एक फोटो बयान कर रही है। ये शासन और प्रशासन भी मूक हो गया लोग अपनी जान को जोखिम में डाल कर चित्रकूय का सफ़र भी कर आये। किसी ने कुछ नहीं भी कहा। भला धर्म कहा ये कहता है आप अपनी जान को जोखिम में डाले और दूसरो की भी यात्रा को दुखमय बनाए।

देखे जागरण कानपुर (घाटमपुर) में प्रकाशित व महेश जी के द्वारा ली गयी एक फोटो .......


अब तो कुछ आप भी कहे और सीख दे सभी को।

   




Monday, November 12, 2012

नसीहत: Burning garbage dump in India, why?

नसीहत: Burning garbage dump in India, why?: Today, every town will get mixed into the burning pile of garbage. How long does this law not only will continue playing with human life....

Burning garbage dump in India, why?



Today, every town will get mixed into the burning pile of garbage. How long does this law not only will continue playing with human life. Paradise constantly talking to the control laws do not to shame that after all? What is the cause?

I am living in small towns and never will leave early in the morning the place - a place to get a burning dumpster. And not even the authorities nor the media attention is. Why keep stealing eye and live Waters Holy of human life?

Never burn garbage and Kanpur in the big city is burning comes reports. However, government officials do not take advice. No need to explain the issue to be discussed. And governments do not understand something.

Today's post is needed to clean all these authorities and related training to employees. To tell them how to transport the garbage disposal and how it should be.



नसीहत: कूड़ा जलाने पर अब तो सरकार को कुछ करना ही चाहिए !

नसीहत: कूड़ा जलाने पर अब तो सरकार को कुछ करना ही चाहिए !: आज हर कस्बे में कूड़ा के ढेर जलाते हुए मिल जायेगे। आखिर कब तक इस तरह से कानून ही नहीं मानव जीवन से खिलवाड़ चलता रहेगे। लगातार प्रदिशन की नि...